Apna Mujhe Tu Laga Lyrics – 1920 Evil Returns

“Apna Mujhe Tu Laga Lyrics”

Anjaane ho tum, jo begaane ho tum
Pehchaane lagte ho kyun
Tum gehri neendon me jab soye soye ho
Toh mujhme jagte ho kyun

Jab tujhko paata hai
Dil muskurata hai
Kya tujh se hai waasta
Kya tujh me dhoondu main
Kya tujh se chaahu main
Kya kya hai tujhme mera
Jaanu na main tujhme mera hissa hai kya
Par ajnabi apna mujhe tu lagaa.

Tujhse taalluk jo nahi kuch mera
Kyun tu lage hai apana saa
Dekhu jo tujhko ik nazar
Jaaye bhar mujhme hai mera jo khala
Zindagi me khushi tere aane se hai
Warna jeene mein gham, har bahane se hai
Hai yeh alag baat hai hum mile aaj hain
Dil tujhe jaanata ik zamaane se hai
Jaanu na main tujhme mera hissa hai kya
Par ajnabi apna mujhe tu laga
Jaanu na main tujhse mera rishta hai kya
Par ajnabi apna mujhe tu laga

Aankhon ne aankhon se kahi daastaan
Tumko banake raazdaan
Baahon me jannat aa gayi khushnumaa
Tum jo huye ho mehrbaan
Jism se jism ka yun taaruf huaa
Ho gaye hum sanam rooh tak aashna
Ek zara jo chale do kadam saath me
Mill gaya hai hume zindagi ka pata

Jaanu na main tujhme mera hissa hai kya
Par ajnabi apna mujhe tu laga
Jaanu na main tujhse mera rishta hai kya
Par ajnabi apna mujhe tu laga

Anjaane ho tum, jo begaane ho tum
Jo pehchaane lagte ho kyun
Tum gehri neendon me jab soye soye ho
Toh mujhme jagte ho kyun

Jab tujhko paata hai
Dil muskurata hai
Kya tujh se hai waasta
Kya tujh me dhoondu main
Kya tujh se chaahu main
Kya kya hai tujhme mera
Jaanu na main tujhme mera hissa hai kya
Par ajnabi apna mujhe tu lagaa.
Jaanu na main tujhse mera rishta hai kya
Par ajnabi apna mujhe tu laga

“Apna Mujhe Tu Laga In Hindi Lyrics”

अनजान हो तुम जो बेगाने हो तुम जो पहचाने लगते हो क्यु
तुम गहरी नींदों में जब सोए सोए हो तो मुझमे जागते हो क्यु
जब तुझको पता है दिल मुस्कुराता है क्या तुझसे है वास्ता
क्या तुझमे ढूंडू मैं क्या तुझसे चाहूं मैं क्या क्या है तुझमे मेरा
जानू ना मैं तुझमे मेरा हिस्सा है क्या पर अजनबी अपना मुझे तू लगा
जानू ना मैं तुझसे मेरा रिश्ता है क्या पर अजनबी अपना मुझे तू लगा

तुझसे तालुक जो नहीं कुछ मेरा क्यों तू लगे है अपनों सा
देखू जो तुझको एक नज़र जाए भर मुझमे है मेरा जो खला
ज़िन्दगी में ख़ुशी तेरे आने से है वरना जीने में गम हर बहाने से है
है ये अलग बात है हम मिले आज है दिल तुझे जानता एक ज़माने से है
जानू ना मैं तुझमे मेरा हिस्सा है क्या पर अजनबी अपना मुझे तू लगा
जानू ना मैं तुझसे मेरा रिश्ता है क्या पर अजनबी अपना मुझे तू लगा

आँखों ने आँखों से कही दासता तुमको बनाके राज़दा
बाँहों में जन्नत आ गई खुशनुमा तुम जो हुए हो मेहरबा
जिस्म से जिस्म का यु उतारुफ़ हुआ हो गए हम सनम रूह तक आशना
इक सदा जो चाहे दो कदम साथ में मिल गया है हमें ज़िन्दगी का पता
जानू ना मैं तुझमे मेरा हिस्सा है क्या पर अजनबी अपना मुझे तू लगा
जानू ना मैं तुझसे मेरा रिश्ता है क्या पर अजनबी अपना मुझे तू लगा
अनजान हो तुम जो बेगाने हो तुम जो पहचाने लगते हो क्यु
तुम गहरी नींदों में जब सोए सोए हो तो मुझमे जागते हो क्यु
जब तुझको पता है दिल मुस्कुराता है क्या तुझसे है वास्ता
क्या तुझमे ढूंडू मैं क्या तुझसे चाहूं मैं क्या क्या है तुझमे मेरा
जानू ना मैं तुझमे मेरा हिस्सा है क्या पर अजनबी अपना मुझे तू लगा
जानू ना मैं तुझसे मेरा रिश्ता है क्या पर अजनबी अपना मुझे तू लगा

Movie: 1920 Evil Returns

Song: Apna Mujhe Tu Laga

Singer: Sonu Nigam

Lyrics: Shakeel Azmi